2019 उत्तर प्रदेश (UP) की लोकसभा सीटों पर यह पार्टी रहेगी आगे – सर्वे देखकर सभी दल हुए हैरान

1779

Survey of the UP Lok Sabha Election

जैसे-जैसे 2019 के लोकसभा चुनाव पास आ रहे हैं, वैसे वैसे देश की राजनीती गरम होती जा रही हैं। अक्सर ये कहा जाता है की जो पार्टी उत्तर प्रदेश को जीतती है वही लोकसभा के चुनाव जीतती है। उत्तर प्रदेश देश के सबसे बड़े राज्यों में से एक है और यहाँ लोकसभा की 80 सीट हैं जो की सरकार बनाने के लिए बहुत मायने रखती हैं। यही सब आंकड़े देखते हुए हर पार्टी उत्तर प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा सीट जीतना चाहती हैं मगर ये इतना आसान नहीं हैं क्योंकि उत्तर प्रदेश,  जातिवाद की राजनीती के लिए जाना जाता है।

ऐसा नहीं हैं की यहाँ लोग केवल जातिवाद को देखकर ही वोट देते हैं, क्योंकि जो आंकड़ा मीडिया के अलग-अलग सर्वे में सामने आया है वो सचमुच ही हैरान करने वाला है क्योंकि इस बार सर्वे के मुताबिक बीजेपी और उसके सहयोगी दलों को मात्र 20 सीटें ही दिखा रहा हैं और विपक्ष को 60 सीटें दिखा रहा है। इस सर्वे से साफ़ जाहिर होता है की लोगों ने बीजेपी की नफरत की राजनीती को नकार दिया हैं और विकास को ध्यान में रखकर वोट देने का मन बना लिया हैं।

2019 में क्या दुबारा देश की गद्दी पर बैठ पाएंगे मोदी?

जो आंकड़े सामने आये हैं वो इतने हैरान करने वाले नहीं हैं क्योंकि 2014 में बीजेपी ने विकास के मुद्दे को आगे रखकर चुनाव जीता था मगर सत्ता मिलते ही अपने वादे भूलती गयी और नफरत की राजनीती पर जोर देने लगी। इतना ही नहीं देश के बड़े बड़े उद्योपतियों को फायदा पहुंचाने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी और यही देखते हुए धीरे धीरे लोगों का विश्वास बीजेपी से पिछले 4 साल में आधा हो गया हैं और जो आंकड़े उत्तर प्रदेश से आये हैं वही आंकड़े लगभग देश के हैं और कई राज्यों के आंकड़े तो और भी बत्तर होंगे जिनमे मध्य प्रदेश और राजस्थान एक हैं।

ये सब बातें ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी का 2019 में दुबारा आना बहुत ही मुश्किल दिखाई देता हैं और ऐसा लगता नहीं की वो दुबारा देश की गद्दी पर बैठ पाएंगे।